www.poetrytadka.com

jab hum yaad karte hai

हम क़ुबूल करते हैं हमे फुर्सत नहीं मिलती!
मगर जब याद करते हैं जमाना भूल जाते हैं !!