www.poetrytadka.com

itni mithi naa boliae

इतना मीठा ना बोलिये जनाब !
याद आ जाते है वो फरेब के दिन !!