www.poetrytadka.com

hmari adhuri khani

सोचने लगा हूँ की बना लू अपनी एक ⇨कहानी !
पर डर लगता हैं की कही रह न जाए हमारी अधूरी कहानी !!