www.poetrytadka.com

Hans ke bol diya karo

कुछ हँस के बोल दिया करो,

कुछ हँस के टाल दिया करो,

यूँ तो बहुत  परेशानियां है 

तुमको भी मुझको भी,

मगर कुछ फैंसले 

वक्त पे डाल दिया करो,

न जाने कल कोई 

हंसाने वाला मिले न मिले..

इसलिये आज ही 

हसरत निकाल लिया करो !!

Kavita Kosh कविता कोश

सबसे बेस्ट शायरी Click Here