www.poetrytadka.com

hamari tu dua hai

हमारी तो दुआ है कोई गिला नहीं

वो गुलाब जो आज तक खिला नहीं

आज के दिन आपको वो सब कुछ मिले

जो आज तक किसी को कभी मिला नहीं