www.poetrytadka.com

ghar bnane me

किसी ने आंख भी खोली तो सोने की नगरी मे !
किसी को घर बनाने मे जमाने बीत जाते है !!