www.poetrytadka.com

Facebook photo upload shayari

बोलना तो सब जानते हैं मगर,
कब और क्या बोलना है.
यह बहुत ही कम लोग जानते हैं. 
Bolna to sab jante hain magar 
kab aur kya bolna hai 
yah bahot he kam log jante hain.

अल्फाजों की समझ नहीं है मुझमें
हाँ पर जज्बात लिखने का हुनर जानती हूँ.
Alfazon ki samajh nahin hai mujhme
han par jazbaat likhne ka hunar janti hun.

दिल बहलाने वाले हज़ार मिलेंगे लेकिन
मुझे तो दिल से चाहने वाला चहिए ।। 
Dil bahlane wale to hazar milengey lekin
mujhey to dil se chahne wala chahiye.

Facebook photo upload shayari