encouragement shayari

encouragement shayari

रंगीन दुनियां के रंगीन लोगों में नाम न लिख मेरा
तौबा कर लूंगा, मरने से पहले न लिख अंजाम मेरा
rangeen duniyaan ke rangeen logon mein naam na likh mera
tauba kar loonga, marane se pahale na likh anjaam mera

यहाँ बिकता है सबकुछ जरा संभलकर रहना
लोग हवाओ को भी बेच देते हैं गुब्बारों में डालकर
yahaan bikata hai sabakuchh jara sambhalakar rahana
log havao ko bhee bech dete hain gubbaaron mein daalakar

कृपया शेयर जरूर करें

Read More