www.poetrytadka.com

emotional shayari with images

Last Updated

तुझे ही फुरसत ना थी मेरे किसी अफसाने को पढ़ने की ऐ सनम !

हम तो बिकते रहे तेरे शहर में, दर ब दर किताबों की तरह !!

emotional shayari with images