www.poetrytadka.com

duaa de jaaega

कितना नादीम (शर्मींदा) हुआ मै बुरा कह के उसे !
क्या पता था जाते जाते वो दुवा दे जायेंगा !!