www.poetrytadka.com

dil ka zakhm har kisi ko dikhaya nahi kate

हर बात में आंसू बहाया नहीं करते !
दिल की बात हर किसी को बताया नहीं करते !
लोग मुट्ठी में नमक लेके घूमते है !
दिल के जख्म हर किसी को दिखाया नहीं करते !!