www.poetrytadka.com

bhut khuobsorat

bhut khuobsorat

बहुत खूबसूरत निशानी एक रखी है मेरे पास तुम्हारी

मेरी किताब मैं बनाया दिल मेरा 

और उसपर चलाया हुआ तीर तुम्हारा !!