www.poetrytadka.com

bhojpuri tu rooth jaibu

bhojpuri tu rooth jaibu

तू रूठ जइबू त हम जीयब कईसे !
फाटल करेजवा के सीयब कईसे !
तूही त हउ हमार सोना के सुराही !
तुही फूट जइबू त पनिया पियब कईसे !!