bhojpuri shayari hindi

bhojpuri shayari hindi

अईसन परिंदन के कईद कईल हमार फितरत नईखे !

 

जे हमरा दिल के पिंजरा में रहके भी केहू आउर के संग उड़े क शउख रखे !!

मुख्य पेज पर वापस जाए