bhojpuri comedy shayari

bhojpuri comedy shayari

जिनिगी अब पहाड़ जइसन लागे लगल बा 

सुखला में बाढ़ जइसे लागे लगल बा..!

कुछुओ कहाँ बा आपन अब, सब झूठीये के भरम बा 

साँसो अब उधार जइसन लागे लगल बा !!

 

मुख्य पेज पर वापस जाए