www.poetrytadka.com

bas yahi

आंखों में ठहर गया थोड़ा-सा पानी.

बस यही दी थी उसने मुझे आखिरी निशानी