www.poetrytadka.com

apne hi hote hai jo dil pr

अपने ही होते है जो दिल पर वार करते है !
गैरों को क्या खबर दिल किस बात पर दुखता है !!