www.poetrytadka.com

Apna basera

ऊँची उड़ान और खुला आसमान कितना भी सुन्दर क्यू ना हो
सुखद और सुकुन से भरा तो अपना छोटा सा बसेरा ही हैं ।

Apna basera