www.poetrytadka.com

Adhuri reh jati hai

कुछ कहानियाँ अक्सर अधूरी रह जाती है,
कभी पन्ने कम प़ड़ जाते है तो कभी स्याही सूख जाती है
Adhuri reh jati hai