www.poetrytadka.com

Ab roya nahin jata

बहुत सताया है किसी की बेबस यादों ने !
ए रात तू गुजर जा, अब रॉय नहीं जाता !!