www.poetrytadka.com

aadat hai tumhari ya

इतनी तहज़ीब से पेश आना आदत है तुम्हारी !
या मुझे क़त्ल करने की कोई साज़िश है तुम्हारी !!