www.poetrytadka.com

Zulm Itna Na Kar

ज़ुल्म इतना न कर के लोग कहें तुझे दुश्मन मेरा !
हमने ज़माने को तुझे अपनी जान बता रखा है !!