www.poetrytadka.com

zmana kharab hai

zmana kharab hai

जमाना भी अजीब है यह नाकामयाब लोगों का मज़ाक़ उडाता है और कामयाब लोगों से जलता हैं !!