www.poetrytadka.com

zindagi par bas itna

जिन्दगी पर बस इतना ,लिख पाया हूँ मैं !
बहुत मजबूत रिश्ते थे कुछ,“कमजोर” लोगों से !!