www.poetrytadka.com

Zindagi me gam naa mile

ये कैसे मुनकिन है कि जिंदगी में गम न मिले

कोई हमें न मिला किसी को हम न मिले 

क्या चाल चली है मेरे मुक्दर ने मुझसे 

प्यार तेरा मिला मगर तुम न मिले

सबसे बेस्ट शायरी Click Here