www.poetrytadka.com

zinda jab tak

जिन्दा जब तक लोग कमियां ही निकालते है !
मरने के बाद जाने कहाँ से इतनी अच्छाइयां लाते है !!