www.poetrytadka.com

tune mera tmasha bna diya

कब तक तेरे फरेब को हादसे का नाम दूँ !
ऐ इश्क तूने तो मेरा तमाशा बना दिया !!