www.poetrytadka.com

Tumhara intezar hai

Last Updated

तुम पुकार लो, तुम्हारा इन्तज़ार है

ख़्वाब चुन रही है रात, बेक़रार है

तुम्हारा इन्तज़ार है

होंठ पे लिये हुए दिल की बात हम

जागते रहेंगे और कितनी रात हम

मुख़्तसर सी बात है, तुमसे प्यार है

तुम्हारा इन्तज़ार है...