tum mere baad mohabbat ko taras jaoge

dard bhare sms tum mere baad

तुम मेरे बाद मोहब्बत को तरस जाओगे
अजनबी शहर है चाहत को तरस जाओगे
मेरी आँखों में आंसू देके मुश्कुराते हो
नाहीं तुम दिल में रहते नाहीं दूर जाते हो

इस उजड़े हुँए चमन में फूल खिलाएगा कोन
हमारे बाद तुम्हे इतना याद आएगा कोन
अरे पगले आज हम है तभी तो सताते है
हमारे जाने के बाद तुम्हे इतना सताये गा कोन

मेरी आँखों में आंसू देके मुश्कुराते हो
नाहीं तुम दिल में रहते नाहीं दूर जाते हो
इससे बेहतर ना कही आसयाना पाओगे
तुम मेरे बाद मोहब्बत को तरस जाओगे
मैंने दिल तुझको दिया ये खता हमारी है
मुझको तो तुझसे इश्क करने की बीमारी है

दिल लगा कर दिल दुखाया नही करते
हस्ते हुए चेहरे को रुलाया नहीं करते
अरे जब दर्द दूर नही करसकते तो दर्द देते ही क्यों हो
अपने चाहने वालो को एक तरह सताया नही करते
मैंने दिल तुझको दिया ये खता हमारी है
मुझको तो तुझसे इश्क करने की बीमारी है
यार तो पाओगे प्यार कहा पाओगे
तुम मेरे बाद मोहब्बत को तरस जाओगे
ऐ मेरे हमसफर यूँ दिल को तुम दुखाओ ना
दिल तो बच्चा है अभी इसको तुम रुलाओ ना
मेरा दिल टूटा तो तुम सभाल ना पाओगे
तुम मेरे बाद मोहब्बत को तरस जाओगे

कृपया शेयर जरूर करें

Read More