www.poetrytadka.com

Tum Agar Chaho

मुझ में बेइंतेहा मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है !
तुम अगर चाहो तो मेरी सांसों की तलासी ले लो !!