www.poetrytadka.com

Tum ab wo nahi rahe

करता नहीं है तुम से शिकायत ये दिल मगर I
कहना ये चाहता है के तुम अब वो नहीं रहे II