www.poetrytadka.com

teri tlash me nikloo

तेरी तलाश मे निकलु भी तो क्या फायदा !
तु बदल गया है, खोया होता तो अलग बात थी !!