www.poetrytadka.com

teri dhadkan kha hai

तेरी मोहब्बत में एक अजब सा नशा है !
तभी तो सारी दुनिया हमसे ख़फ़ा है !
ना करो तुम हमसे इतनी मोहब्बत !
कि दिल ही हमसे पूछे बता तेरी धड़कन कहाँ है !!