www.poetrytadka.com

tere pyar ke siva daman me kuch nahi

तेरे प्यार के सिवा मेरे दामन मे कुछ नही !
तेरे जिकर के सिवा मेरी बातो मे कूछ नही !
मै जानता हु कि जाने अनजाने मे सताता रहता है !
सच कहु तो तेरे बिना मेरी जिन्दगी मे कूछ नही !!