www.poetrytadka.com

Tera intzaar hai

शाम कब की ढल चुकी है तेरे इन्तज़ार में

अब भी अगर आ जाओ तो ये रात बहुत है

Tera intzaar hai
सबसे बेस्ट शायरी Click Here