www.poetrytadka.com

teirna to aata tha hme

तैरना तो आता था हमे मुहोब्बत के समंदर मे लेकिन !
जब उसने हाथ ही नही पकड़ा तो डूब जाना अच्छा लगा !!