www.poetrytadka.com

Talash Karo

Last Updated
जीत ही जीत हूँ मात ही मात हूँ
मैं तेरे अख्तियार से आगे की बात हूँ
jeet hee jeet hoon maat hee maat hoon
main tere akhtiyaar se aage kee baat hoon

बिगड़ गया तो आफत जैसा
वैसे काफी शरीफ हूँ मै
bigad gaya to aaphat jaisa
vaise kaaphee shareeph hoon mai
Talash Karo