www.poetrytadka.com



Whatsapp Quotes

apni tanhai

apni tanhai

अपनी तनहाई तेरे,नाम पे आबाद करे

कौन होगा जो तुझे मेरी तरह याद करे

es bekrar dil ko krar

es bekrar dil ko krar

इस अंजुमन की रौनके बहार तुम्ही से है 

इस बेकरार दिल का करार तुम्ही से है...

ढूंढा किये जिसे पूरी कायनात में हम 

वो शख्स तुम्ही हो, हमें प्यार तुम्ही से है

waqt ke sath

waqt ke sath

वक्त के साथ इश्क बढ़ता चला जाता है...

सफर आँखों से शुरू होकर रूह में उतर जाता है

din to kat jata hai

din to kat jata hai

दिन तो कट जाता है शहर की रौनक में...

कुछ लोग याद बहुत आते है दिन ढल जाने के बाद

jhoothi shaan

jhoothi shaan

झूठी शान के परिंदे ही ज्यादा फड़फडडाते हैं

बाज की उड़ान में कभी आवाज नहीं होती