Sharabi Shayari

sharabi shayari | शराबी शायरी | शराब शायरी | funny sharabi shayari in hindi | dard bhari sharabi shayari in hindi | shayari on sharab in hindi | sharabi shayari with images | sharabi shayari 2 lines | sharabi shayari in hindi font | sharabi shayari 140 | sharabi movie shayari

sharab koun pita hai

sharab koun pita hai

मयखाने से पूछा आज इतना सन्नाटा क्यों है, 

बोला साहब लहू का दौर है शराब कौन पीता है।

sharabi shayari tu hosh me thi

tu hosh me thi

तू होश में थी फिर भी हमें पहचान न पायी,

एक हम हैं कि पी कर भी तेरा नाम लेते रहे

 

sharabi shayari maikhane se

Maikhane Se

फिर इश्क़ का जूनून चढ़ रहा है सिर पे, 

मयख़ाने से कह दो दरवाज़ा खुला रखे