www.poetrytadka.com

soya huaa hai

सोया हुआ है मुझमें कोई शख्स आज रात 

लगता है अपने जिस्म से बाहर खड़ा हूँ मैं.