www.poetrytadka.com

shak karti hai duniya

लाख समझाया तुझे शक करती है दुनिया !
गुजर जाया कर मुस्कुराया ना कर !!