www.poetrytadka.com

Pyari smile Shayari

आजतक मैंने कहीं देखा नहीं ऐसा सबाब,
तेरे होंठों के तबस्सुम से हैं शर्मिंदा गुलाब।

क्या मिलेगा दिल में नफरत करके,
थोड़ी सी ज़िन्दगी है हँसके गुजार दे। 

Pyari Smile Shayari in Hindi.