pyar me chalakta zaam ho tum

फ़िज़ा में महकती शाम हो तुम !

प्यार में छलकता जाम हो तुम !

सीने में छुपाए फिरते हैं हम यादें तुम्हारी !

इसीलिए मेरी ज़िंदगी का दूसरा नाम हो तुम !!

Read More