www.poetrytadka.com

Prem aur aastha

Last Updated

प्रेम और आस्था दोनो पर ही किसी का #जोर नही ...

ये मन जहाँ #लग जाए ...वही पर रब नजर आता है .

Prem aur aastha