www.poetrytadka.com

nhi bhool sakta

वो सीने में अपने, मेरा चेहरा छुपाना !
गले से लगाना, लगाकर हटाना !
वो गालों पर मेरे लबों को छुआना I
वो शरमाकर हथेली से चेहरा छुपाना I
नहीं भूल सकता हूँ, है मेरी ग़ज़ल वो !
वो भोला सा, प्यारा सा चेहरा सयाना !!

हिन्दी शायरी