www.poetrytadka.com

musam mere dil ka sard kyu hai

मौसम मेरे दिल का इतना सर्द क्यों है !
सजाता हूँ लफ़्ज़ों को मोहाब्बत से !
फिर भी इन में इतना दर्द क्यों है !!