www.poetrytadka.com

mujhe na dhoodh

मुझे ना ढूंढ ज़मीन-ओ-आसमान की गर्दिश में !
तेरे दिल में अगर नहीं हूँ तो फिर कहीं नहीं हूँ !!