www.poetrytadka.com

mohabbat ki shamma jla ke to dekho

मोहब्बत की शम्मा जला के तो देखो !
जरा दिल की दुनिया सजाके तो देखो !
तुम्हे हो ना जाए मोहब्बत तो कहना !
जरा हमसे नज़रे मिला के तो देखो !!