www.poetrytadka.com

mohabbat hi mohabbat hai

तुम जिस रिश्ते से आना चाहो आ जाना !
मेरे चारो तरफ मोहब्बत ही मोहब्बत है !!