www.poetrytadka.com

Mere Khamoosh

मेरे खामोश रहने पे कोई इलज़ाम न देना !
समंदर तो समंदर हैं... कभी बोला नहीं करते !!